Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

28.3.17

दीपक चौरसिया को क्यों करना पड़ा शो कैंसल?




पत्रकार रंजीत कुमार की साधना प्राइम न्यूज में नई पारी


24.3.17

अवैध बूचड़खाने की कवरेज कर रहे पत्रकार को धमकी



संबंधित खबर के लिए इस शीर्षक पर क्लिक करें...

यूपी का महा घोटालेबाज अफसर है रमा रमन

संबंधित खबर के लिए इस शीर्षक पर क्लिक करें...

सईद अंसारी : एक अदभुत एंकर, एक बेजोड़ इंसान

संबंधित खबर के लिए इस शीर्षक पर क्लिक करें...


युवा वर्ग सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी जड़ों की ओर लौट रहा है


कल्चरल रिप्रजेंटेशन एंड पावर ऑफ़ मीडिया पर  एकदिवसीय राष्ट्रीय सगोष्ठी का आयोजन
नई दिल्ली : मीडिया द्वारा कला और संस्कृति पर और गहराई से मनन करने और उसे सही पैकेजिंग में पेश करने से कला-संस्कृति का प्रस्तुतिकरण भी मीडिया के लिए लाभदायक हो सकता है। डिस्कवरी जैसा एक पूरा चैनल यदि लोक संस्कृति पर ऐसे कार्यक्रम प्रस्तुत कर सकता है, जो दर्शकों को घंटों तक बांधे रहता है और वह लाभ कमा सकताहै, तो अखबारों, पत्रिकाओं तथा अन्य खबरिया चैनलों के लिए भी यह कठिन नहीं होना चाहिए। यह माना जाता है कि टीआरपी के लिए चैनलों का सनसनीखेज होना आवश्यक है, जबकिसच यह है कि आज युवा वर्ग सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी जड़ों की ओर लौट रहा है, अपनी संस्कृति से जुड़ रहा है।

एयर इंडिया वाले लतखोर होते हैं!

संबंधित खबर के लिए नीचे दिए शीर्षक पर क्लिक करें...

22.3.17

भगत सिंह की भतीजी ने कहा- 'शहीदे आजम का सपना अब पूरा होता दिख रहा है'


मुंबई । अंतर्राष्ट्रीय पटल पर विकसित हो रही भारत की मजबूत छवि से शहीदे आजम भगत सिंह के परिवारजन खुश हैं। भगतसिंह की भतीजी श्रीमती विरेंदर सिंधु अरोड़ा ने कहा है कि शहीदे आजम के सपनों के भारत का निर्माण असल में अब होता दिख रहा है, यह उनके लिए खुशी की बात है। वे लंदन में जानी मानी लेखिका श्रीमती मंजू लोढ़ा की पुस्तक ‘परमवीर – द वार डायरी’ का अवलोकन करने के बाद अपने उदगार प्रकट कर रही थी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की जो मजबूत राष्ट्र की छवि बन रही है, वह गर्व करने योग्य है।

इस एंकर से रहें सावधान, प्रोफेशनल मुकदमेबाज है







पूरा मामला जानने के लिए इस शीर्षक पर क्लिक करें...

पूर्व मंत्री विजय मिश्र ने दी पत्रकार को दी धमकी

पूरे प्रकरण को इस शीर्षक पर क्लिक करके जान समझ सकते हैं...

दरभंगा के प्रवीण झा नार्वे में बतौर रेडियोलाजिस्ट डाक्टर कार्यरत हैं, पढ़ें उनकी एक ताजा पोस्ट....

प्रवीण झा लिखित पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे क्लिक करें...