Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

18.1.18

भागी हुई लड़कियां


हार्ट अटैक से युवा पत्रकार का निधन

कौशाम्बी से खबर है कि अर्श न्यूज़ नेटवर्क के सह सम्पाद्क युवा पत्रकार एहसान काज़मी का हार्ट अटैक से निधन हो गया. उन्हें देर रात आया था हार्ट अटैक. घर पर वे अकेले ही थे जिसके कारण उन्हें कोई तत्काल चिकित्सकीय मदद नहीं मिली। एहसान काजमी के निधन से पत्रकारों में शोक की लहर है. काजमी सैनी कोतवाली के औरेनी गाँव के रहने वाले थे।


17.1.18

आगरा में अर्श नामक अस्पताल दरअसल एक कसाईखाना है


वरिष्ठ पत्रकार सुभाष गुप्ता ने अखबारों का झूठ पकड़ा

  डा. सुभाष गुप्ता

खबर पढ़ने के लिए नीचे दिए शीर्षक पर क्लिक करें....

12.1.18

आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने चार जजों को लेकर क्या कह दिया...

पढ़ने के लिए नीचे दिए शीर्षक पर क्लिक करें..

मीडिया में ब्राह्मणवाद क्यों है, इसका जवाब एक वरिष्ठ पत्रकार ने यूं दिया...

सुरेंद्र किशोर का संस्मरण पढ़ने के लिए नीचे दिए शीर्षक पर क्लिक करें...

एक और पत्रकार ने रिपब्लिक टीवी से दिया इस्तीफा, शशि थरूर हुए खुश, देखें ट्वीट


देखें शशि थरूर का ट्वीट

Shashi Tharoor @ShashiTharoor

Many young idealists are repelled by what they are being asked to do in the name of journalism. Some media owner-anchors may have no scruples, but morality & decency are basic human values & most people find it troubling to abandon them for a paycheque. #UDontHave2Lie4ALiving

Touched by the moral courage  of journalist Deepu Aby Varghese who resigned from @republic TV after being ordered to harass me at the Tvm Press Club. He approached me to apologise for his behaviour, as have some former employees of @TimesNow. Decency appreciated. @seegerblues

बोकारो प्रेस क्लब की हुई बैठक में पत्रकार हित पर हुई चर्चा


युवा-दिवस पर विशेष : युवा के ताप में तप का सन्निवेश करना होगा

‘युवा’ संस्कृत शब्द स्रोत से प्राप्त ‘युवन’ शब्द का समासगत रुप है। ‘वृहत् हिन्दी कोश’ में युवा से संबंधित पुरुषवाचक संज्ञा शब्द ‘युवक’ का अभिप्राय तरुण, जवान और सोलह से तीस वर्ष तक की आयु का पुरुष है। और इसी संदर्भ में स्त्री के लिए ‘युवती’ शब्द प्रयुक्त होता है। आयु के अनुरुप शब्द प्रयोग की अपनी विशिष्ट परम्परा है, जिसमें छोटे बच्चों को शिशु अथवा बाल ; दस से पन्द्रह वर्ष तक की आयु वालों को किशोर; सोलह से तीस तक के वय-वर्ग हेतु तरुण और युवक, तीस से ऊपर प्रौढ़, पचास के लगभग अधेड़ और साठ-सत्तर की आयु से व्यक्ति की वृद्ध संज्ञा हो जाती है, किन्तु वर्तमान राजनीतिक संदर्भों में युवा शब्द उपर्युक्त प्रयोग परम्परा का अतिक्रमण कर चालीस से ऊपर के वय वर्ग तक प्रयुक्त हो रहा है जो कि परम्परा-सम्मत नहीं है।