Bhadas ब्लाग में पुराना कहा-सुना-लिखा कुछ खोजें.......................

17.11.17

अमर उजाला के संपादक के खिलाफ एफआईआर दर्ज



चंद्रशेखर की गिरती सेहत के मद्देनजर रासुका हटाया जाये- दारापुरी

लखनऊ : “चंद्र्शेखर की गिरती सेहत के मद्देनज़र रासुका हटाया जाये” यह मांग आज एस.आर. दारापुरी संयोजक उत्तर प्रदेश जनमंच एवं सदस्य स्वराज अभियान उत्तर प्रदेश समिति ने आज प्रेस को जारी बयान में कही है. उन्होंने कहा है कि सितम्बर के आखिरी सप्ताह से भीम आर्मी संस्थापक चंद्रशेखर की सेहत खराब चल रही है. सितम्बर में उसे जेल में कई दिन तक बुखार, पेट दर्द तथा सांस लेने में तकलीफ की शिकायत रही थी जो बाद में टाईफाईड में बदल गयी थी. सेहत में अधिक गिरावट आने पर उसे 27 अक्तूबर को जेल से जिला अस्पताल सहारनपुर  भेजा गया था जहाँ पर उसे आईसीयू में रखने की ज़रुरत पड़ी थी. यह बड़ी हैरानी कि बात है कि उसे उसी शाम ही अस्पताल से फिर जेल भेज दिया गया.

Somnath Patil passed away

Senior member of Mumbai Press Club Somnath Patil passed away


14.11.17

साहित्यकार देवेंद्र शर्मा इंद्र


..इसलिए बरकरार है ईटीवी की बादशाहत

गांव का एक पत्रकार भी खुद को सरपंच से कम नहीं समझता। ऐसे में यदि कोई पत्रकार किसी नामचीन चैनल का हेड हो तो उसके ठाठ का अंदाजा लगाया जा सकता है। शायद एसी (एयर कंडीशनर) की ठंडी हवा में हेड बना बैठा वो पत्रकार तो सरकार को भी अपने दफ्तर में बुलवा लेगा। ऐसा होता भी रहा है। मगर इसके विपरित एक पत्रकार ऐसा भी है जो सूबे के सबसे बड़े चैनल का हेड होने के बावजूद एसी चेम्बर का मोह त्याग कर तपती गर्मी में पसीना बहाते हुए फील्ड में रिपोर्टिंग करता है।

रैली निकालने पर मुकदमा दर्ज




गलत खबर छाप दी पत्रिका ने


पुलिस ने शांतिभंग की आशंका में मीडियाकर्मी को किया पाबंद


नेहरू की पहल पर कांग्रेस में आईं थीं राजमाता सिंधिया


12.11.17

बस्तर पर जर्मनी में मंथन : आदिवासियों के पारंपरिक ज्ञान के संवर्धन की जरूरत



जर्मनी के हेमबर्ग यूनिवर्सिटी में आयोजित ‘द विसडम आफ दी आदिवासी’ विषयक संगोष्ठी में जहां दुनिया के अगल-अलग देशों में समाज की मुख्यधारा से बिलग हो कर रहे आदिवासियों की पारंपरिक ज्ञान, रीती रिवाज, जीवनशैली पर मंथन किया जा रहा था, वहां डॉ. राजाराम त्रिपाठी ने बस्तर के आदिवासियों की आर्थिक सामाजिक स्थिति से लेकर उनके पारंपरिक औषधिय व वनस्पतियों से संबंधित ज्ञान की पुरजोर से दुनिया के सामने रखा. डॉ त्रिपाठी से संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर क्षेत्र की पहचान ही जल-जंगल-जमीन और इसके आदिकाल से संरक्षक आदिवासियों को लेकर है. बस्तर के जंगली क्षेत्र में गांडा, मारिया, मुरिया, गोंड, भतरा, हलबा, परजा, दोरला, बाइसन हार्न मारिया जनजातियां निवास करती है. मानव उत्पत्ति विज्ञान के अनुसार बाइसन हार्न मारिया मानव उत्पत्ति काल की सर्वाधिक पुरानी जनजाति है.

RTI: Govt couldn’t frame National Litigation Policy in 07 years

The RTI information provided by the Department of Legal Affairs to activist Dr Nutan Thakur reveals that the Central Government has not been able to frame a National Litigation Policy despite work going on for the last 07 years.

press club of india election 2017 : मैनेजिंग कमेटी मेंबर के लिए भड़ास वाले यशवंत ने भरा पर्चा

इसी नवंबर महीने की पच्चीस तारीख को होने वाले प्रेस क्लब आफ इंडिया के सालाना चुनाव की गहमागहमी तेज हो गई है.  भड़ास फॉर मीडिया के संस्थापक और संपादक यशवंत सिंह ने शनिवार को अपना नामांकन दाखिल किया. यशवंत मैनेजिंग कमेटी के सदस्य पद हेतु चुनाव लड़ेंगे. दैनिक जागरण, अमर उजाला और आई-नेक्स्ट जैसे अखबारों में सब एडिटर से लेकर चीफ रिपोर्टर और संपादक पद पर आसीन रह चुके यशवंत फिलहाल कई न्यूज चैनलों और अखबारों के सलाहकार के रूप में भी कार्यरत हैं. साथ ही साथ वह दशक भर से भड़ास फार मीडिया के जरिए मीडिया इंडस्ट्री की अच्छी-बुरी हलचलों को जनता के सामने लाने का काम कर रहे हैं.


हिमाचल प्रदेश में बीजेपी के गुंडों ने इस पत्रकार को बुरी तरह पीटा


मजीठिया वेज बोर्ड मांगने पर अखबार मालिक ने रिपोर्टर को आफिस में घुसने से रोका



आरटीआई : सुषमा ट्विटर हैंडल आधिकारिक, विदेश मंत्रालय में 02 अन्य

विदेश मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर को आरटीआई  में दी गयी सूचना के अनुसार मंत्रालय अपनी मंत्री सुषमा स्वराज के ट्विटर हैंडल को आधिकारिक रूप से स्वीकार करता है. नूतन को दी गयी जानकारी में अपर सचिव (लोक राजनय) कपिल शर्मा ने बताया कि मंत्रालय के दो आधिकारिक ट्विटर हैंडल हैं- @MEAIndia  तथा  @indiandiplomacy.

उन्होंने बताया कि ये ट्विटर हैंडल मंत्रालय द्वारा अपने कार्यों तथा गतिविधियों को बेहतर तरीके से करने के लिए विदेश प्रचार तथा लोक राजनय (एक्सपीडी) प्रभाग द्वारा बनाए गए थे. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि  मंत्रालय द्वारा इन ट्विटर हैंडल को कोई आधिकारिक मान्यता नहीं दी गयी है क्योंकि ये सम्बंधित अफसरों द्वारा अपने सरकारी काम में सूचना के प्रसारण तथा सोशल मीडिया पर लोगों के साथ संपर्क में आने के लिए तैयार किये गए थे. उन्होंने बताया कि सुश्री स्वराज का आधिकारिक ट्विटर हैंडल @SushmaSwaraj है.

जिसे जब मौका मिलता है, लूट लेता है




राहुल के कारण झुकी मोदी सरकार

-फ़िरदौस ख़ान
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात दौरे से केंद्र की भाजपा सरकार में हड़कंप मचा हुआ है. जीएसटी में बदलाव इसकी ताज़ा मिसाल है. पिछले दिनों राहुल गांधी ने गुजरात में जीएसटी के मौजूदा स्वरूप में बदलाव करने का वादा किया था. उन्होंने कहा था कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के सत्ता में आने पर भाजपा सरकार द्वारा लागू किए गए जीएसटी में बड़े बदलाव किए जाएंगे. उन्होंने कहा था कि सत्ता में आने पर हम ऐसा जीएसटी लेकर आएंगे, जिससे आपको फ़ायदा होगा. आप के मुताबिक़ हम काम करेंगे. हम आपकी बात को सुनेंगे.

कोलकाता मेट्रो में 7 वर्षों में कोई दुर्घटना नहीं

मेट्रो रेलवे, कोलकाता द्वारा लखनऊ स्थित एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर को आरटीआई  में दी गयी सूचना के अनुसार कोलकाता मेट्रो में पिछले 07 वर्षों में कोई दुर्घटना नहीं हुई है. नूतन ने रेलवे मंत्रालय से 01 जनवरी  2010 से अब तक हुई ट्रेन दुर्घटनाओं के सम्बन्ध में बनायी गयी जाँच समिति की सूची तथा इन जाँच आख्या एवं इनके आधार पर की गयी कार्यवाही की प्रति मांगी थी. मंत्रालय से इसे सभी रेलवे जोन को अग्रसारित कर दिया था. जहाँ अन्य सभी रेलवे जोन द्वारा अलग-अलग संख्या में दुर्घटना होने की बात बताई गयी, वहीँ कोलकाता मेट्रो अकेला ऐसा रेलवे जोन है जिसके द्वारा इस सम्बन्ध में शून्य सूचना दी गयी. इस अवधि में सर्वाधिक 83 ट्रेन दुर्घटनाएं उत्तर पश्चिम रेलवे जोन, जयपुर में हुईं जबकि पूर्वात्तर रेलवे जोन गोरखपुर में 62 दुर्घटनाएं हुईं. भारत में वर्तमान में 17 रेलवे जोन हैं.

DEMONETIZATION : Measuring its impact on real estate sector

Demonetization completes one year. On 8th November 2016, Prime Minister Narendra Modi had announced the closure of 500 and 1000 notes. Modi’s decision to take action on black money has ushered a new era for the real estate industry in India. The rolling out of major policy reforms such as the Real Estate Regulation and Development Act (RERA) and the Goods and Services Tax (GST) compounded the aftermath effects of Demonetization.

यूपी में कुपोषण एक महामारी, लेकिन सियासी मुद्दा नहीं

अजय कुमार, लखनऊ
दुनिया 21वीं सदी में पहुंच गई है। विज्ञान नित्य नये चमत्कार कर रहा है। चांद पर घर बसाने की बात हो रही है तो अन्य ग्रहों का भी पता चला है,जहां जीवन के लक्षण दिखाई दे रहे हैं। यह सब बाते और दावे काफी उत्साहित करने वाले लगते ही नहीं होते भी हैं। विज्ञान थ्योरी पर चलता है और इसके दावे प्रमाणित होते हैं, परंतु कुछ दावे ऐसे भी होते हैं जिनका कोई ओर-छोर नहीं होता है। ऐसे दावे तमाम मौकों पर हमारे नेतागण करते मिल जाते हैं। धरती पर स्वर्ग उतार लाने की बात होती हैं। वर्षों बरस तक ‘गरीबी हटाओं, देश बचाओं का’ का नारा देकर नेतागण सत्ता पर काबिज रहते हैं। पूरी दुनिया में एक मात्र अपना ही मुल्क होगा, जहां दरिद्र को नारायण की उपमा दी जाती होगी। फिर भी देश की बड़ी आबादी को भूखे पेट सोना पड़े, उसे न शुद्ध जल मिले न पौष्टिक खाना, छत और स्वास्थ सेवाओं की बात तो दूर की कौड़ी हो तो उस देश में कुपोषण जनित बीमारियों पर चर्चा करना बेईमानी लगता है। वहां  संयुक्त राष्ट्र हमें आइना दिखाते हुए कहता हो कि भारत में हर साल कुपोषण के कारण मरने वाले पांच साल से कम उम्र वाले बच्चों की संख्या दस लाख से भी ज्यादा है। दक्षिण एशिया में भारत कुपोषण के मामले में सबसे बुरी हालत में है। तो हमारा सिर शर्म से झुक जाना चाहिए लेकिन अफसोस ऐसा होता नहीं है।